September 17, 2011

Passage

"Mixed Media", I call it since I plan to post a variety of content in this blog. Some post may quite literally have art work containing mixed media! On my journey to becoming a professional artist one day, I want to post some of the paintings I do too.

However, I want to dedicate my first post to my grand-father followed by my grand-mother. My grand-father recently passed away and this is what I had to say to him. (This post is in Hindi.)


दादाजी... प्यार से दादू... 


आज आप हमारे बीच नही हैं, पर आप हमेशा मेरे दिल में रहेंगे |
कितनी बातें हैं जो में आपके साथ करना चाहता हूँ |
ज़िंदगी के कितने पल हैं, जो अभी आए भी नही, मैं आपके साथ बाँटना चाहता हूँ |
अफ़सोस सिर्फ़ इस बात का है कि मे आपके करीब न था उस आखरी वक्त पर...


आप हमेशा मेरे आदर्श रहे हैं और रहेंगे, पहेले गुरु और शिक्षक भी आप ही थे |
आपके अनुभवों से हम सभी ने बहुत कुछ हाँसिल किया है |
आप जैसा शांत मन और साफ दिल शायद ही किसी का हो सकता है |
बड़ों और छोटों को आपने हमेशा आदरसमान समझा |


कितनी बातें हैं जो में आपके बारे में जानता तक नहीं |
हमेशा सोचते ही रह गये कि "इन बातों को और कभी करेंगे" |
जाते जाते भी आप मुझे सिखा गये कि जिंदगी का कोई भरोसा नही |
आज ही है सिर्फ़ | इसे जी लेना चाहिए पूरी तरह...


आशा है आप जहाँ भी हैं इस समय, कुशलपूर्वक हैं |
आपसे कभी कह न सका, पर यहीं कह देता हूँ आज...
"बहुत बहुत सादर धन्यवाद सभी चिसों के लिए दादू!"


आप हमेशा मेरे दिल में और यादों में रहेंगे...


आपका प्यारा पोता...
साकेत